शुक्रवार, 8 मई 2015

कुमार विश्वास की महिला प्रचारक और सियासत..

महिला आयोग को यदि कुमार विश्वास की खास "अमेठी की महिला प्रचारक" की शिकायत मिले तो आवश्यक कार्यवाही करनी चाहिए न की आपसी स्कोर सेटल करना चाहिए.. मिडिया को भी ऐसे मुद्दे चाहे केजरीवाल से संबंधित हो या किसी भी अन्य पार्टी से,इसे मनोरंजक बना के परोसने से बचना चाहिए।। कुमार विश्वास एक रसिक प्रवृत्ति के व्यक्ति है इसे हर कोई जानता है और ऐसे कई उदाहरण है अन्य पार्टियों में भी
जैसे मदेरणा,एन डी तिवारी,अभिषेक मनु सिंघवी या राघव जी..
केजरीवाल जी को इन फर्जी मुद्दों पर सफाई देने की जगह,दिल्ली को फ्री wi fi देने का प्रयास करन चाहिए...15 लाख CCTV कैमरे लगाने की शुरुवात करनी चाहिए... महिला कमांडो की न्युक्ति और भ्रष्ट बिजली कंपनियों को दिल्ली से भगाने का कार्यक्रम भी बाकी है। अभी भ्रष्ट कांग्रेसियों को जेल भेजना है,दलाल मिडिया वालों को अन्दर करना है।। हर हफ्ते 2 स्कुल खुलवाने थे और कुछ कालेज का भी वादा पूरा करना है।। केजरीवाल जी इतने काम पड़े है दिल्ली की जनता ने आप को काम करने के लिए 67/70 दिया था न की कुमार विश्वास को चरित्र प्रमाणपत्र निर्गत करने के लिये।।
केजरीवाल जी खुद को आप ने चुनावों में "राजनैतिक ब्रह्मचारी" सदृश्य प्रस्तुत किया था,परन्तु दुर्भाग्यवश अब तक आप "राजनीतिक हनीमून" में व्यस्त दिखें।। आशा है यदि हनीमून की समयावधि पूरी हो गयी हो तो दिल्ली की जनता से किये गए वादे तथा मुद्दों पर भी कार्य शुरू किया जायेगा...

आशुतोष की कलम से
#beinghindu