गुरुवार, 19 फ़रवरी 2015

मोदी के सूट पर घटिया सियासत करती कांग्रेस और दलाल मिडिया

सूट पर घटिया सियासत:
नरेन्द्र मोदी को उपहार मे दिए गए एक सूट जिसकी कीमत 10 हजार भी नहीं रही होगी मिडिया के दलालों और विपक्ष के महान नेता राहुल गाँधी ने 10 लाख का बताया। ये वही राहुल गाँधी है जो एक बार बिदेश यात्रा में करोडो का पेट्रोल चार्टेड प्लेन में उड़ा देते हैं।। ये वही राहुल गांधी हैं जो अपने जीजा के साथ जब हरिद्वार में राफ्टिंग करते हैं तो सरकार को 7 करोड़ रूपये का खर्च आता है।। ये वही दलाल मिडिया है जिसके पत्रकार पंचसितारा होटलों में लाखो रूपये दारु और लड़की में उड़ाते हैं और आज वे मोदी को दिए गए उपहार पर प्रश्न चिन्ह उठा रहे हैं।।
खैर मोदी का 10 हजार का सूट 1 करोड से ज्यादा में नीलाम हुआ और पैसा गंगा सफाई के अभियान में जाएगा।। उसके साथ साथ मोदी जी को दिए गए कई उपहारों को नीलामी हुई। कई लोगो ने पुछा की जब नीलाम ही करना था तो पहना क्यों तो बंधुओं वो 10 हजार का सूट 1 करोड़ से ज्यादा में बिका क्युकी मोदी ने उसे एक बार पहना था। कोई दिग्विजय या कांग्रेसी टुच्चा नेता पहनता तो लोग उससे अपना कमोड तक नहीं पोछते। बाकी आलोचकों के जानकारी के लिए नरेन्द्र मोदी ने गुजरात का मुख्यमंत्री रहते हुए अपने को मिले उपहारों और कुछ अपनी वस्तुओं की नीलामी करा कर उससे मिले हुए पैसे कन्याओं के लिए चलायी जा रही सरकारी योजना को दान करते रहे हैं। अतः मोदी के लिए ये हर साल का काम है मगर कांग्रेसी और मिडिया के दलाल जो सिर्फ लेना जानते हैं उन्हें ये समझ में नहीं आएगा।
बड़े भाग्य से एक ऐसा प्रधानमंत्री मिला है जो स्वयं की वस्तुओं और जरुरत पड़ने पर स्वयं को भी भारत माता के लिए गंगा माँ के लिए नीलाम कर सकता है।। मुझे गर्व है की नरेन्द्र मोदी हमारे प्रधानमंत्री हैं। संभव है मोदी जी की किसी नीति से हमारे मतभेद हों परन्तु कपडे पर आरोप लगाना अत्यंत शर्मनाक है ।।वैसे भी कपडे पर आरोप की राजनीति करने वाले कान्ग्रेसियों और विरोधियों का इतिहास, जीवन भर दूसरों के कपड़ो को उतारने का रहा है पहनाने का नहीं।
वैसे भी लोग पत्थर आम के पेड़ पर ही मारते हैं क्यूकी वहां से उन्हें फल मिलता है बबूल पर पत्थर कोई नहीं चलाता क्यूकि वहां फल मिलेगा नहीं उल्टा काटा गलत जगह चुभने का खतरा.. यही हाल हमारी मिडिया का है सोनिया के 350 करोड़ का पेट्रोल का खर्च नहीं दिखा इन दल्लों को और भारत के प्रधाननमंत्री का सूट ज़ूम कर के देखने में लगे हैं।।
दलालों पत्रकारिता छोड़ो...

नमो नमः

आशुतोष की कलम से
#beinghindu

1 टिप्पणी:

  1. कुछ पत्रकार तो जैसे मोदी विरोध के लिए ही बने हैं।मोदीजी दिनरात बिना विश्राम किये देश के लिए काम कर रहे हैं और एक पप्पू जिसका iq सिर्फ 0 है वो बुध्धू की तरह चिल पों मचा रहा है और राजदीप जैसे सड़ेले देशद्रोही पत्रकार ऐसे पप्पू गांधी की हाँ में हाँ मिला रहे हैं।

    उत्तर देंहटाएं

आप को ये लेख कैसा लगा अपने विचार यहाँ लिखे..